सरोकार की मीडिया

test scroller


Click here for Myspace Layouts

Wednesday, September 16, 2015

ललितपुर समाचार, 17 सितंबर,2015 दैनिक सरोकार की मीडिया

ललितपुर समाचार, 17 सितंबर,2015 दैनिक सरोकार की मीडिया

 

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय किसानों को बनायेगा सशक्त
ललितपुर। प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय वरदानी भवन की मुख्य बड़ी दीदी बी.के.चित्ररेखा के दिल्ली से लौटकर बुधवार को बताया कि राज्य योग एज्युकेशन एण्ड रीचर्स फाउण्डेशन के तत्वाधान में किसान सशक्तिकरण का अभियान ललितपुर जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में 2829 सितम्बर को संपन्न होगा। उन्होंने कहा कि भारत देश कृषि प्रधान देश है। भारत की अर्थ व्यवस्था उत्पादकता पर आधारित है। अपने राष्ट्र को सुखी व समृद्ध बनाने के लिए किसानों को सशक्त बनाना होगा। कहा कि किसान हमारे देश की शान हैं। दुनियां 21वीं सदी में प्रवेश कर चुकी है, फिर भी हमारे किसानों की स्थिति दयनीय है। अभी तक भी अशिक्षा, अंधविश्वास व कुरीतियों को नहीं तोड़ सके हैं। आवश्यकता है एक ऐसी आध्यात्मिक क्रान्ति की जिसके द्वारा उनका नैतिक, आर्थिक, सामाजिक व चारित्रिक विकास हो सके। आध्यात्मिकता द्वारा किसानों के अंतकरण को शुद्ध बनाना साथ ही राज योग के अभ्यास द्वारा व्यक्ति में सद्भावना हिम्मत, आत्म विश्वास जैसे सुषुप्त मूल जागृत करना अभियान का मुख्य लक्ष्य है। वर्तमान परिदृश्य में अनेक विपरीत परिस्थितियों में चाहे मौसम का उतार-चढ़ाव चाहे खेती की लागत बढऩे व उत्पादों का उचित मूल्य न मिलने के कारण सर्वाधिक परेशानी का अनुभव किसान कर रहे हैं। साथ ही ग्रामीण युवा जिन्हें अपना भविष्य अंधकार विहीन दिखायी पड़ता है, वह लक्ष्य विहीन होकर अनेक प्रकार के नशीले पदार्थों का सेवन कर रहे हैं। उन्हें कृषि जैसा उत्तम कार्य बोझ व मजबूरी लगने लगा है। वह गांव से पलायन कर रहे हैं। किसानों को सशक्त करने की आवश्यकता है। आगे उन्होंने बताया कि ग्राम विकास प्रभाग फिर से गोकुल गांव बनाने, स्वर्णिम भारत का निर्माण करने के लिए कृत संकल्पित है। इसके लिए पूरे देश में अखिल भारतीय किसान सशक्तिकरण अभियान चलाया जा रहा है।

संजू नीलकमल बने व्यापार सभा नगराध्यक्ष
सपा जिलाध्यक्ष ने किया नामित, युवाओं ने जताया हर्ष
ललितपुर। युवाओं को समाजवादी पार्टी में स्थान देते हुये अपनी युवा सोच के चलते प्रदेश विकास की ओर अग्रसर है। इसी के चलते आज ललितपुर सपा जिलाध्यक्ष आल्हा प्रसाद निरंजन ने संजय जैन सन्जू नीलकमल को समाजवादी व्यापार सभा का नगर अध्यक्ष नामित किया है। इसके साथ ही नवनामित नगराध्यक्ष से सपा की नीतियों व राष्ट्रीय अध्यक्ष की समाजवादी विचारधारा को जन-जन तक पहुंचाने का आह्वान किया है। संजू के नगराध्यक्ष बनने पर जहां एक ओर व्यापारी वर्ग ने खुशी का इजहार किया है तो वहीं युवाओं ने भी हर्ष जताया है। सपा जिलाध्यक्ष ने व्यापार सभा नगराध्यक्ष संजू नीलकमल से एक सप्ताह के अंदर नगर कार्यकारिणी गठित कर सूची जिला कार्यालय में उपलब्ध कराने को कहा है। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष आल्हा प्रसाद निरंजन, सहकारी बैंक उपाध्यक्ष राजेश यादव, महेन्द्र यादव जिजयावन, पप्पू राजा आलापुर, जयराम सिंह निरंजन आदि मौजूद रहे।

लोहिया वाहिनी ने एसडीओ के खिलाफ खोला मोर्चा
एसडीओ विद्युत पर अनियमित्ताओं व मनमानी करने का आरोप
ललितपुर। अंधेर नगरी चैपट राजा....! यह कहावत विद्युत विभाग पर चरितार्थ होती है यदि यह कहा जाये तो कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी। क्योंकि विद्युत विभाग के कारनामों की जितनी चर्चा की जाये वह कम ही होगी। कभी अपने मनमाने रवैये तो कभी हठधर्मिता के चलते यह विभाग सदैव सुर्खियों का विषय बना रहता है। भले ही अधिकारी जनता की समस्या को नहीं सुनते, परन्तु किसी भी व्यक्ति को सामाजिक, आर्थिक व मानसिक रूप से उत्पीड़ित करने में यहां के अधिकारियों का कोई तोड़ भी नहीं।
            समाजवादी लोहिया वाहिनी ने विद्युत विभाग में तैनात उप खण्ड अधिकारी पर लगातार अनियमित्तायें बरतते हुये मनमानी करने का आरोप लगाया है। इस सम्बन्ध में लोहिया वाहिनी ने प्रदेश के मुख्यमंत्री को संबोधित एक ज्ञापन उप जिलाधिकारी सदर रमेशचंद्र तिवारी व अधिशाषी अभियन्ता विद्युत प्रशान्त सिंह को सौंपा है। ज्ञापन में लोहिया वाहिनी पदाधिकारियों ने आरोप लगाया कि विद्युत विभाग में तैनात एसडीओ अखिलेश कुमार वर्मा द्वारा आम जनता को अनावश्यक रूप से परेशान व उत्पीड़ित किया जा रहा है। बताया कि शासन द्वारा बार-बार निर्देश दिये जाते हैं कि समस्त अधिकारी अपने कार्य दिवस सुबह 10 से 12 बजे तक अपनी पटलों पर बैठकर जनता की समस्याओं को सुनें और त्वरित निस्तारण करें। परन्तु एसडीओ अपने कार्यालय में कभी भी उपलब्ध नहीं होते हैं। जानकारी के लिए विभाग द्वारा उपलब्ध कराये गये सीयूजी नम्बर जब उनसे सम्पर्क किया जाता है तो वह फोन भी नहीं उठते। यदा-कदा फोन उठ भी गया तो सामने वाले की पूरी बात भी नहीं सुनी जाती। ऐसी स्थिति में कहां तक विभागीय अधिकारी जनता की सुन रहे हैं, यह स्पष्ट है।
            लोहिया वाहिनी ने मुख्यमंत्री को भेजे ज्ञापन में बताया कि 14 अगस्त 2015 को दैनिक समाचार पत्र में एसडीओ ने एक समाचार प्रकाशित कराते हुये अपनी मंशा स्पष्ट की। उपभोक्ताओं की समस्याओं से दूर तक सरोकार न रखने वाले एसडीओ के उक्त तुगलकी फरमान के कारण बेवजह ही समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। लोहिया वाहिनी कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री से एसडीओ के कार्यों की जांच कराते हुये कठोर कार्यवाही किये जाने की मांग की है। ज्ञापन देते समय जिला महासचिव शत्रुघन यादव, गौरव तिवारी, अमित पाल, लखन सोनी, सोनल श्रीवास्तव, विपिन पाठक, मोहित शर्मा, संजय पुरोहित, शिवम पाराशर, मनीष गोस्वामी, प्रिंस तिवारी, नितिन पुरोहित, अविनाश तोमर, रोहित राठौर, प्रशान्त दुबे, प्रबल प्रताप सिंह, सत्येन्द्र पुरोहित, शिवम पाराशर, संजय श्रीवास्तव, प्रदीप पाठक, गौरव पाठक, महेन्द्र कुशवाहा, गोलू, अरूण तिवारी आदि मौजूद रहे।

विद्युत विभाग ने थमाया 68.97 लाख का बिल
सहायक अधीक्षक नगर पालिका ने मुख्यमंत्री को भेजा शिकायती पत्र
ललितपुर। क्या किसी घरेलू मकान का पौने एक लाख रुपया विद्युत बिल हो सकता है ? आप भी सोच रहे होंगे कि ऐसा कैसे हो गया। लेकिन यह सच सामने आया है। महावीरपुरा मोहल्ला से तीन वर्ष पहले घर छोड़कर गांधीनगर में स्थानान्तरित होकर विद्युत संयोजन विच्छेद कराने के बाद भी विद्युत विभाग ने कारनामा दिखाते हुये 68 लाख 97 हजार 79 रुपये का बिल थमाया है। यह मामला काफी जटिल होता नजर आ रहा है। इस सम्बन्ध में शिकायतकर्ता सहायक कार्यालय अधीक्षक नगर पालिका परिषद रमाकान्त तिवारी ने एक शिकायती पत्र मुख्यमंत्री, प्रबंधक निदेशक विद्युत, आयुक्त झांसी, मुख्य अभियंता, अधीक्षण अभियन्ता व जिलाधिकारी ललितपुर को भेजते हुये कार्यवाही की मांग की है।
            भेजी गयी शिकायत में मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि उन्होंने वर्ष 2012-13 में मोहल्ला गांधीनगर वार्ड नं0-02 (नईबस्ती) स्टेशन अपने नवनिर्मित भवन में शिफ्ट होने के बाद पुराने भवन (महावीरपुरा) में प्रार्थी के नाम संचालित विद्युत संयोजन को स्थायी रूप से विच्छेदित कराने हेतु मय नोटरी शपथ पत्र प्रार्थना पत्र दिया था, तथा अन्तिम बिल रू0 3491/- जमा करने के उपरान्त विद्युत संयोजन स्थायी रूप से विच्छेदित करने हेतु 150/-रू0 (पी0डी0शुल्क) जमा किया। तत्पश्चात विद्युत विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी स्वयं प्रार्थी के घर आकर स्थायी रूप सेे विद्युत संयोजन विच्छेदित करके मीटर, मय बोर्ड व डोरी सहित अपने साथ ले गये थे। एक दैनिक समाचार पत्र में 13 अगस्त 2015 में विद्युत विभाग के 10 सार्वधिक बडें बकायादारों के नाम विभाग द्वारा प्रकाशित कराये गये जिसमें उनके नाम रू0 68 लाख, 97 हजार, 79 रूपया की विद्युत बिल बकाया धनराशि दर्शायी गयी। वास्तविक स्थिति जानकारी करने हेतु प्रार्थी ने अपने पुत्र को विद्युत विभाग के कार्यालय में भेजा जहां विद्युत विभाग के कार्यालय में पैसे की मांग की जा रही है।
            बताया कि विगत 14 अगस्त को कचनौंदा बांध के निरीक्षण के दौरान वापिस लौटने पर मुख्य अभियन्ता झांसी द्वारा विद्युत विभाग के कार्यालय में अधिशासी अभियन्ता ललितपुर व अन्य विभागीय अधिकारी/कर्मचारियों की बैठक के दौरान शाम 5 बजे प्रार्थी जब उनके समक्ष उपस्थित हुआ तथा सम्पूर्ण प्रकरण में अवगत कराया था, तब उन्होंने उप खण्ड अधिकारी प्रथम अखिलेश कुमार शर्मा का निर्देशित किया था कि उक्त मामले को यथाशीघ्र निपटाने हेतु कार्यवाही करें। मामले को लेकर 18 अगस्त को तहसील दिवस में शिकायत सं0-3721500755 जिलाधिकारी के समक्ष प्रस्तुत की एवं सम्बन्धित साक्ष्य प्रस्तुत कियेे, परन्तु आज दिनांक तक कोई कार्यवाही नही की गयी। तब 15 सितम्बर को आयोजित तहसील दिवस में फिर से शिकायत सं0-3721500836 उप जिलाधिकारी के समक्ष प्रस्तुत की एवं सम्बन्धित साक्ष्य प्रस्तुत किये, परन्तु विद्युत विभाग के अधिकारी हठधर्मिता अपनाते हुये मौन बने हुये हैं। उन्होंने मामले में निष्पक्ष जांच कराते हुये दोषियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है।

समस्त त्यौहार एकजुट होकर मनायें: समिति
जिला एकीकरण समिति की महत्वपूर्ण बैठक संपन्न
ललितपुर। जिला एकीकरण समिति की एक बैठक अपर जिलाधिकारी एम.के.त्रिवेदी की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में सदस्य असलम कुरैशी ने सभी धर्मों के लोगों से त्यौहारों को आपसी भाईचारे के साथ मनाने की बात कही। कहा कि गजल का प्रोग्राम एवं सांस्कृति कार्यक्रम भी किये जाने चाहिए। सदस्य भूपेन्द्र जैन ने कहा कि जनपद की संस्कृति पूरे देश में प्रचलित करने योग्य है। यह जनपद शान्तिप्रिय है। कहा कि धार्मिक समूहों की भागीदारी बढ़ाये जाने एवं शिक्षा के क्षेत्र में वाद-विवाद प्रतियोगिता कराये जाने की आवश्यकता है। साहित्यिकार अब्दुल करीम असर ललितपुरी ने कहा कि एकीकरण का मतलब दो समूहों को मिलाकर एक करना है। कहा कि सबका आपस में मिलकर रहना ही एकीकरण सिखाता है। बृजेश चतुर्वेदी ने स्कूलों में प्रार्थना के बाद सभी धर्मों के गुरूओं को बुलाकर बच्चों को सिखाने की बात कही। महिला सदस्य अर्चना अग्रवाल ने बैठक की शुरूआत को अच्छी पहल बताते हुये सामाजिक स्तर पर सभी धर्मों के लोगों को आपस में मिलाने पर जोर दिया। जयशंकर प्रसाद द्विवेदी ने कहा कि जिला एकीकरण समिति के सदस्यों द्वारा जो सुझाव दिये गये हैं वह सराहनीय है। भूतपूर्व सैनिक रमेश यादव ने कहा कि हमारे समाज में एक ही निचोड है, अनुशासन कायम रखना। मदिरा एवं भ्रष्टाचार समाप्त करने के लिए कमेटी बनायी गयी है। सीओ नाराहट ने कहा कि सामाजिक सौहार्द समाज के विभिन्न सम्प्रदायों से मिलकर बना है। इसके अलग-अलग नियम हैं, तथा अलग-अलग सामाजिक कानून भी हैं। इस अवसर पर सीएमओ डा.सत्येन्द्र कुमार, मुख्य विकास अधिकारी अरूण कुमार उपाध्याय व अपर जिलाधिकारी एम.के.त्रिवेदी ने भी संबोधित किया। बैठक का संचालन व आभार जिला सूचना अधिकारी चन्द्रचूड़ दुबे ने किया।

जीवन में कषाए हो रही सहज और धर्म असहज: आर्यिकाश्री
ललितपुर। जीवन में कषाए सहज हो रही है और धर्म असहज जिसके चलते आज लोग धर्म की ओर से विमुख हो रहे हैं। व्यक्ति सब कुछ करता है लेकिन आनंद की अनुभूति नहीं हो पाती। आर्यिका पूर्णमति माता जी ने क्षेत्रपाल मंदिर में धर्मसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि जीवन में चारित्र अंगीकार करने में जहां सुख की अनुभूति होती है वही अभिप्राय के अनुसार ही कर्म का बंध होता है।
            आर्यिकाश्री ने कहा कि व्यक्ति जड़ वस्तुओं में तो आनंद की अनुभूति करता है लेकिन जिनवाणी का रसास्वादन न जाने क्यो नहीं करता, यदि जीवन में करता रहे तो आनंद की अनुभूति होगी। जब तक सम्यक ज्ञान नहीं होता सम्यक्त्व नहीं आएगा और न ही कषाए कम होगी और न ही जीव अजीव की पहिचान होगी। दवा जेब में नहीं अगर शरीर में जाए तो असर करती है इसी प्रकार धर्म ज्ञान जीवन में उतारो तो स्वयं ही प्रभावी रहेगा। धर्मसभा का शुभारंभ अरविन्द जैन, एड.संतोष गोयल, अरविन्द, अनूप नजा, राजेश जैन ने व अतिथि सम्मान अनुराग सिंघई, संजीव जैन, अनुराग जैन, सुधीर बरया, सुरेन्द्र कडंकी ने किया। चित्र अनावरण विधानाचार्य अमित शास्त्री, आनंद जैन, कैलाशचंद ने किया। जैन समाज अध्यक्ष अनिल अंचल ने कहा कि जिनवाणी के रूप में आर्यिकाश्री हमें मिली हैं। मुरझाई ज्ञानलता जो वचनामृत से आज खिली है, सतयुग आया क्षेत्रपाल जी में दिव्य देशना वरस रही है। इस दौरान संजय जैन ने कहा कि आर्यिकाश्री के सानिध्य में शिविर असीम पुण्य का अवसर है, जहां अनेकों पापों का क्षय होगा और जीवन जीने की कला मिलेगी। संचालन महामंत्री डा.अक्षय टड़ैया ने किया।

इंजीनियर्स डे पर 23 इंजीनियरों ने किया रक्तदान
ललितपुर। उत्तर प्रदेश डिप्लोमा इंजीनियर्स महासंघ द्वारा प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी  स्व. आर.के.दत्ता के 28वें निर्वाण दिवस पर प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी इैम कालौनी में अध्यक्ष इं. श्याम बाबू शर्मा की अध्यक्षता में सभी ने उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किये। इसके बाद जिला चिकित्सालय में महासंघ द्वारा आयोजित रक्तदान कार्यक्रम सम्पन्न कराया गया। इसमें उत्तर प्रदेश डिप्लोमा इंजीनियर महासंघ के 33 सदस्यों ने रक्तदान किया। इसके बाद पनारी स्थित मदर टेेरेसा होम जाकर अनाथ एवं असहाय बच्चों में फल व मिष्ठान वितरण कार्य सम्पन्न कराया गया। इस दौरान इं. हेमन्त कुमार, प्रदीप श्रीवास्तव, हरीहर यादव, राजेश वर्मा, नवनीत, नागेश मोहन, आभा, रेनू यादव, शशि राज, हाकिम सिंह, संजय, केके सिंगल, अमित प्रकाश, वीके श्रीवास्तव, बृजेन्द्र, सुरेन्द्र सिंह, सतीश चन्द्र गौर, भूपेन्द्र कुमार, ओमप्रकाश, राजेन्द्र कुमार, शैलेष यादव, लक्ष्मीनारायण, राघबेन्द्र यादव, प्रवीण सोनी, जितेन्द्र कुमार, अजय कुशवाहा, राघबेन्द्र, भरत यादव, राकेश वर्मा आदि उपस्थित रहे।

फिर उठायी ग्रामीण डाक सेवको ने मांग
ललितपुर। ग्रामीण डाक सेवकों की एक बैठक संगठन के अध्यक्ष दशरथ अहिरवार के नेतृत्व में कम्पनी बाग में हुई। बैठक में ग्रामीण डाक कर्मचारियों के साथ पिछले 150 सालो से होते आये भेदभाव को अब तक दूर न किये जाने पर रोष व्यक्त किया गया। ग्रामीण डाक कर्मचारी भी वही काम करते है जो शहर में कार्यरत कर्मचारी पर देानेो के वेतनमान में जमीन आसमान का अंतर अब बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। ग्रामीण डाक कर्मचारी भी वही काम करते है जो शहर में कार्यरत कर्मचारी पर दोनो के वेतनमान में जमीन आसमान का अंतर अब बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। बताया कि ग्रामीण डाक कर्मचारी, डाक विभाग की रीण है, फिर इस रीण को कुरेदने का कार्य क्यों, वर्तमान में 80 प्रतिशत डाकखाने ग्रामीण क्षेत्र में है, जो की विभाग की मुख्य आय का साधन है। इसके अलावा उन्होंने डाक विभाग के द्वारा शीघ्र ही न्याय न मिलने पर दोनो की अन्याय एवं दमनकारी नीतियों के खिलाफ अग्र आंदोलन की चेतावनी दी। इस दौरान अरविंद पटेल, पुष्पेन्द्र, जयराम, हरभजन, बनवारी, सुन्दर लाल, शोभाराम दुबे, अजब सिंह, विनोद कुमार, ओमप्रकाश, गुलाबचंद, महेश चतुर्वेदी, खुशाल चंद, ओमप्रकाश, काशीराम, राधे विहारी, गुलाब चंद, रामलाल, महेश कुमार, कांशीराम, शैलेष विलगैया, सन्तोष कुमार आदि उपस्थित रहे।

22 को होगी बैठक
ललितपुर। जिलाधिकारी जुहेर बिन सगीर ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि 2 अक्टूबर गांधी जयंती समारोह मनाये जाने हेतु 22 सितम्बर को पूर्वान्ह 12 बजे कलैक्ट्रेट सभागार में एक बैठक का आयोजन किया गया है। उक्त बेठक में समय से उपस्थित होने की अपील की है।

25 तक मांगे आवेदन
ललितपुर। जनपद में गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले पिछड़ा वर्ग के शिक्षित बेरोजगार इण्टरमीडिएट पास युवक/युवतियो को ओ लेबिल एक वर्षीय कम्प्यूटर प्रशिक्षण दिये जोन हेतु आवेदन पत्र आमंत्रित किये गये है। इस योजनान्तर्गत भारत सरकार की अधिकृत संस्था डोयक से मान्यता प्राप्त संस्थाओं द्वारा प्रशिक्षण दिया जायेगा। आवेदन की अंतिम तिथि 15 सितम्बर से बढ़ाकर 30 सितम्बर कर दी गई है। इच्छुक बेरोजगार आवेदन पत्र जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण कार्यालय से प्राप्त कर लें। आवेदन 25 सितम्बर तक कार्यालय में जमा होंगे।