सरोकार की मीडिया

test scroller


Click here for Myspace Layouts

Thursday, October 8, 2015

ललितपुर समाचार, 09 अक्‍टूबर,2015 दैनिक सरोकार की मीडिया

ललितपुर समाचार, 09 अक्‍टूबर,2015 दैनिक सरोकार की मीडिया



फर्जी तरीके से सूची में शामिल कर बनाया आशा कार्यकत्री
विभागीय अधिकारियों की मिलीभगत से चल रहा खेल
ललितपुर। राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के तहत गर्भवती महिलाओं को सुरक्षित प्रसव कराने के उद्देश्य से सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में आशा कार्यकत्रियों को नियुक्त किया गया है। ग्रामीण क्षेत्रों की आबादी बढऩे से और आशा कार्यकत्रियों का चयन कर तैनाती की जा रही है। लेकिन आशाओं की चयन प्रक्रिया में धांधली के चलते मनमाने तरीके से उनको चयन कर प्रशिक्षण दिलाया जा रहा है। नियमों को ताक पर रखकर स्वास्थ्य विभाग ने जिले में कई आशाओं का चयन कर सूची में नाम फर्जी तरीके से सम्मिलित किया गया है। ग्राम पंचायत दावनी के प्रधान माधव सिंह से जब पूछा गया कि आपके द्वारा कोई खुली बैठक कर आशा कार्यकत्रियों के प्रस्ताव दिये गये हैं तो इस बात पर उन्होंने साफ इंकार करते हुये कहा कि मेरे द्वारा कोई भी प्रस्ताव नहीं दिया गया है। जबकि स्वास्थ्य विभाग ने धांधली कर ग्राम पंचायत दावनी में नीलम पत्नी मानवेन्द्र सिंह व रजनी पत्नी मंगल सिंह को बिना प्रस्ताव के ही फर्जी तरीके से सूची में सम्मिलित कर प्रशिक्षण करा दिया गया है। इसी तरह ग्राम खिरिया मिश्र में भी रेखा यादव को फर्जी तरीके से सूची में शामिल कर तैनाती दे दी गयी है। सूत्रों तो यह भी बताते हैं कि ग्राम विकास अधिकारी अमित कुमार द्वारा भी कोई प्रस्ताव स्वास्थ्य विभाग को आशा कार्यकत्री चयन के बारे में नहीं सौंपा गया है। स्वयं एएनएम ने ही प्रस्ताव बनाकर स्वास्थ्य विभाग के समक्ष प्रस्तुत कर दिया है, जिस पर स्वास्थ्य विभाग ने मनमाने तरीके से तीनों महिलाओं को आशा के रूप में चयन कर लिया है। करीब साढ़े ग्यारह सौ की आबादी वाले ग्राम पंचायत दावनी के ग्राम चैसा-बरदेही में तैनात आशा कार्यकत्री ने एक अन्य महिला को आबादी मानक के विपरीत आशा कार्यकत्री बनाये जाने का विरोध दर्ज कराया है। कार्यकत्री आशा यादव का आरोप है कि एनआरएचएम के डीसीपीएम विजय सिंह ने रेखा नाम की महिला को इन गांव की आशा कार्यकत्री के रूप में चयन करने के लिए प्रशिक्षण कराया है। बताया कि 1499 की आबादी पर एक आशा कार्यकत्री तैनाती का मानक है, जिसके विपरीत करीब साढ़े ग्यारह सौ की आबादी पर दूसरी कार्यकत्री को कैसे तैनात किया जा सकता है। इस सम्बन्ध में उन्होंने बीते रोज केन्द्र से आयी एनआरएचएम की टीम को भी शिकायती पत्र सौंपा था।
डा.रूपेश कुमार
जिलाधिकारी, ललितपुर
मामला आपके द्वारा संज्ञान में आया है। सीएमओ से आशा चयन प्रक्रिया की पत्रावली तलब की जायेगी। यदि आशाओं के चयन प्रक्रिया में धांधली उजागर हुई तो सम्बन्धितों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी।

नाबालिग से दुराचार की विवेचना पर जताया संदेह
राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने बाल कल्याण समिति को सौंपी जांच
ललितपुर। महरौनी थाना क्षेत्र में करीब छह माह पूर्व नाबालिग छात्रा के साथ दुराचार के मामले को राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने गंभीरता से लेते हुये बाल कल्याण समिति (न्यायापीठ) ललितपुर को जांच करने के आदेश दिये हैं। बाल कल्याण समिति ललितपुर ने राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के आदेश मिलते ही जिला प्रोबेशन कार्यालय में बैठक कर सम्बन्धितों को 19 अक्टूबर को कार्यालय में समस्त अभिलेखों सहित प्रस्तुत होने के निर्देश दिये हैं। गौरतलब है कि 5 मई 2015 को नाबालिग के साथ हुये दुराचार के मामले में आरोपियों के विरूद्ध धारा 376डी, 313, 315, 120बी आईपीसी व धारा-6 पास्को एक्ट के तहत महरौनी कोतवाली में मामला पंजीकृत कराया गया था। पीड़ित ने राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग को पत्र भेजकर बताया कि उक्त मामले के विवेचक द्वारा सही विवेचना नहीं की जा रही है। साथ ही पीड़िता को अपमानित व प्रताड़ित भी किया जा रहा है। महिला अस्पताल में तैनात चिकित्सक पर भी आरोप लगाया है कि आरोपी महिला चिकिगत्सक के सम्बन्ध सरकारी अस्पताल में तैनात डाक्टर से हैं। इसलिए चिकित्सीय परीक्षण भी सही नहीं कराया गया है। पीड़ित ने डाक्टरों के पैनल द्वारा जांच कराये जाने की मांग की है। आयोग के आदेश पर जांच कर रही बाल कल्याण समिति की न्यायापीठ ने मामले का संज्ञान लेते हुये सुनवाई के लिए विवेचना अधिकारी तत्कालीन प्रभारी निरीक्षक कोतवाली महरौनी व जिला महिला अस्पताल की चिकित्सक व पीड़िता के साथ उसके अभिभावकों को आगामी 19 अक्टूबर को सुबह 11 बजे प्रोबेशन कार्यालय में प्रस्तुत होने के निर्देश दिये हैं। बैठक में बाल कल्याण समिति सदस्य राजेन्द्र कुमार रजक, अजय बरया, दिनेश कुमार गोस्वामी, कु.कल्पना संज्ञा आदि मौजूद रहे।

वातावरण को शुद्ध बनाने में पौधों की महत्वपूर्ण भूमिका
विहान आवासीय बालिका विद्यालय में हुआ वृहद वृक्षारोपण
ललितपुर। श्रमिकों के बच्चों को शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी बनाने के लिए राज्य सरकार की पहल पर जिले में छात्र-छात्राओं के लिए अलग- अलग विद्यालयों का संचालन एक संस्था द्वारा किया जा रहा है। बच्चों को शिक्षा के साथ-साथ समय-समय पर सामाजिक परिवेश के दायित्वों का बोध कराने के लिए भी कई आयोजन किये जाते हैं। जिससे कि बच्चों का ज्ञान बढ़ सके और वह समाज के एक बेहतर नागरिक बन सकें। इसी क्रम में गुरूवार को गोविंद सागर बांध रोड मोहल्ला करीमनगर स्थित विहान आवासीय बालिका विद्यालय में वृहद स्तर पर वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें राज्य संदर्भित (श्रम) आसमा द्वारा छात्राओं को पौधों का रोपण करने के पीछे पर्यावरण व वर्तमान वातावरण की जानकारी दी गयी। इस दौरान बच्चों को बताया गया कि पर्यावरण की सुरक्षा के लिए हमें वृक्षारोपण करना अनिवार्य है। वृक्षारोपण से हमें जीवन भर छाया, फल-फूल इत्यादि मिलते ही है। इतना ही नहीं वृक्ष वातावरण में वायु को भी शुद्ध बनाने में सहायक होते हैं। इस दौरान बालिकाओं ने क्यारी में पौधों का रोपण किया। साथ ही पौधों के संरक्षण का भी संकल्प लिया। इस अवसर पर राज्य संदर्भित (श्रम) आसमा, वार्डन (अधीक्षिका) सावित्री के अलावा शिक्षिकाओं में पूजा, रूमन, शुभांजिली आदि मौजूद रहे।

गुमटी उखाड़ फेंकने का आरोप
जमीन को बताया मंदिर के खाते में दर्ज
ललितपुर। शहर के मोहल्ला इलाइट क्षेत्र पर खंगार क्षत्रिय समाज के बने मंदिर के निकट जसवंत सिंह परिहार पुत्र विन्द्रावन की एक गुमटी रखी हुई है। जसबन्त का आरोप है कि विगत दिवस मिलट्री से आये कुछ लोगों ने उसके डिब्बे फेंकते हुये उक्त जमीन को अपना बताया है। जसबन्त का कहना यह भी है कि उक्त जमीन मंदिर के नाम से आधा एकड़ खाता है, जो कि जशोदाबाई के नाम से दर्ज है। उन्होंने जिलाधिकारी से मामले की निष्पक्ष जांच कराये जाने की मांग की है।



माँ भगवती की प्रतिमाओं को सजाने में जुटे शिल्पकार
जल्द ही शहर में जगह-जगह सज जायेंगे माता के दरबार
ललितपुर। जल्द ही संपूर्ण वातावरण भक्तिमय होने वाला है। शहर के गली-मोहल्लों से लेकर कई स्थानों पर माँ भगवती के दरबार सजाये जायेंगे। इसकी तैयारी भक्तों द्वारा शुरू कर दी गयी है। तो वहीं दूसरी ओर माँ भगवती के विभिन्न स्वरूपों की प्रतिमाओं को बनाने का कार्य भी शिल्पकारों द्वारा युद्ध स्तर पर किया जा रहा है। एक फुट से लेकर छह फुट तक तक की प्रतिमाओं का निर्माण ललितपुर शहर में किया जा रहा है, जो कि नवरात्र के दौरान आकर्षण का केन्द्र रहती हैं। नवरात्र शुरू होते ही शहर में मानों भक्ति की अविरल गंगा बह उठती है। पूरे शहर में माता की झांकियां लोगों को दूर-दूर से आकर दर्शन के लिए उत्साहित करती हैं। माँ भगवती का नौ दिनों तक अभिनव श्ऱृंगार किया जाता है। साथ ही भक्तों द्वारा चुनरिया चढ़ाना, भजन-कीर्तन इत्यादि भी जोरों से किया जाता है।

अपने दायित्वों का करें निर्वाह्न: डीएम
ललितपुर। राजकीय इण्टर कालेज सभागर में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जोनल एवं सैक्टर मजिस्ट्रेटों तथा निर्वाचन डयूटी अधिकारी डयूटी हेतु तैनात अधिकारियों तथा कर्मचारियों के लिये प्रशिक्षण सत्र का आयोजन किया गया। प्रशिक्षण सत्र के दौरान एसपी प्रभाकर चैधरी द्वारा विस्तार से प्रशिक्षण में भाग ले रहे प्रतिभागियों को जानकारी प्रदान की गई। उन्होंने कहा कि निर्वाचन डयूटी में लगे सभी अधिकारी व कर्मचारी पूरी निष्ठा एवं मेहनत से कार्य करें यह भी बताया कि कर्मचारियों के लिये मड़ावरा, महरौनी जाने हेतु बसों की व्यवस्था की गयी है। सामान्य रूप से उन्ही वाहनों को आने जाने की अनुमति होगी जिनके पास वाहन होगा। यह भी कहा कि मतदान के बाद कोई भी मतदाता मतदान केन्द्र के पास मौजूद नहीं रहेगा। मतदान के बाद मतदाता सीधे अपने घरों को जायेंगे। निर्वाचन डयूटी में तैनात कर्मी तथा अन्य अधिकारीगण किसी भी व्यक्ति का आतिथ्य स्वीकार नहीं किया जायेगा। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अरुण कुमार उपाध्याय, अपर जिलाधिकारी, अपर पुलिस अधीक्षक, उपजिलाधिकारी महरौनी, उपजिलाधिकारी मड़ावरा, परियोजना निदेशक, सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी सहित पुलिस विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

पुलिस कर्मचारी पर महिला को ले जाने का आरोप
ललितपुर। साहबरू एक पुलिस कर्मी उनकी मां को कहां लिवा ले गया, पता ही नहीं चल रहा। पूरा एक माह बीत गया सभी जगह तलाश कर ली लेकिन उनका कोई पता नहीं चला। यह बात दो मासूम बच्चों ने अपनी मां की तलाश में पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन देकर गुहार लगायी है। थाना जाखलौन के ग्राम जीरोन निवासी एक किशोरी ने पुलिस अधीक्षक को शिकायती पत्र सौंपते हुये कही। शिकायती पत्र में बताया कि बीते 19 सितम्बर को जाखलौन थाने में तैनात एक सिपाही उसके घर आया और उसकी मां को गाड़ी पर बिठाकर यह कहते हुये ले गया कि थाने में कुछ काम है। लेकिन तब से अभी तक उसकी मां घर नहीं आयी, उसने इस संबंध में उक्त सिपाही से बात की तो वह उनके साथ अभद्रता करते हुये बोला कि उसकी मां का उसे कोई पता नहीं है।

अवैध शराब समेत तीन पकड़े
ललितपुर। पंचायत चुनाव के मद्देनजर मतदाताओं को रिझाने के लिए शराब का प्रयोग न हो इसके लिए जिला प्रशासन व पुलिस विभाग काफी सक्रिय है। पुलिस अवैध शराब के निर्माण व बिक्री को लेकर चप्पे-चप्पे पर नजर बनाये हुये हैं। इसी क्रम में थाना नाराहट पुलिस ने मोटर साइकिल से भारी मात्रा में शराब ले जा रहे तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गये युवकों में ग्राम मकरीपुर निवासी राजू पुत्र पूरनचंद्र, आशीष कौशिक पुत्र कृपाराम व पप्पू पुत्र अपती बताये गये हैं। उक्त तीनों युवक मोटर साइकिल संख्या यूपी 94 एच 3295 से देशी शराब के 159 क्वाटर ले जा रहे थे। पुलिस ने पकड़े गये तीनों युवकों के खिलाफ आबकारी अधिनियम की धारा 60/72 के तहत मामला दर्ज कर विवेचना शुरू कर दी है।

वाहन की टक्कर से बाइक सवार घायल
ललितपुर। जिला मुख्यालय आने के लिए मोटर साइकिल लेकर घर से निकला युवक विपरीत दिशा से आ रहे वाहन की टक्कर लगने से घायल हो गया। घायलावस्था में उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मड़ावरा ले जाया गया, जहां उसकी हालत नाजुक होने पर जिला अस्पताल रैफर कर दिया गया। घायल का नाम लखन पुत्र टानी अहिरवार बताया गया है। इसके साथ सवार शिवचरन पुत्र मोनलाल भी घायल बताया गया है।

अनियंत्रित होकर बाइक डिवाइडर से टकराई
ललितपुर। थाना जाखलौन अंतर्गत ग्राम पिपरिया वंशा निवासी संजय पुत्र मलखान सिंह यादव अपनी साली ग्राम नदनवारा निवासी सजरी पुत्री तेज सिंह को लेकर वापस घर आ रहा था कि तभी ग्राम विघाखेत के निकट उसकी मोटर साइकिल अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकरा गयी, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। राहगीरों की मदद से दोनों घायलों को उपचार के लिए जिला अस्पताल में दाखिल कराया गया है।

मारपीट का मामला दर्ज
ललितपुर। कोतवाली क्षेत्रांतर्गत मोहल्ला चैकाबाग निवासी कैलाश शर्मा पुत्र रामस्वरूप ने शिकायत दर्ज कराते हुये बताया कि मोहल्ले के ही सलमान पुत्र इसरार, महेन्द्र पुत्र बाबूलाल, दीपेन्द्र पुत्र लक्ष्मण व ऋषभ पुत्र राकेश जैन ने उसके साथ जबरन गाली-गलौच कर दी। मना करने पर उक्त लोगों ने मारपीट करते हुये जान से मारने की धमकी भी दी। पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर उक्त लोगों के खिलाफ धारा 323, 504, 506 के तहत मामला दर्ज कर विवेचना शुरू कर दी।

जखौरा बवाल काण्ड में दो और गिरफ्तार
ललितपुर। विगत दिनों जखौरा क्षेत्र से जिला पंचायत सदस्य पद की महिला प्रत्याशी के प्रचार वाहन से मिले असलहा के मामले में समर्थकों ने प्रत्याशी को छुडाने के लिए थाने पर पथराव कर दिया था। पुलिस ने भीड़ का तितर-बितर करने के लिए लाठी चार्ज के साथ आंसू गैस का प्रयोग भी किया था। इस मामले में जिला प्रशासन ने सख्त रवैया अपनाते हुये पूरे प्रकरण की वीडियो रिकॉर्डिंग से लोगों की पहचान कर उन्हें पकडऩे की निर्देश जारी किये थे। जखौरा काण्ड में विगत दिवस ग्राम मुडऱा निवासी पूरन पुत्र सुधीर लोधी व गणेश पुत्र हीरालाल लोधी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। 

No comments:

Post a Comment