सरोकार की मीडिया

test scroller


Click here for Myspace Layouts

Sunday, September 6, 2015

दैनिक सरोकार की मीडिया 07 सितंबर, 2015

दैनिक सरोकार की मीडिया 07 सितंबर, 2015

सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट से बचें: एसपी
कोंच में हुये बवाल पर हरकत में आया ललितपुर पुलिस महकमा
ललितपुर। कोंच में सोशल मीडिया में आपत्तिजनक पोस्ट किये जाने पर हुये बबाल पर ललितपुर पुलिस महकमा तत्काल हरकत में आ गया। साइबर क्राइम पर प्रभावी तरीके से रोक लगाने को लेकर पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चैधरी ने घण्टाघर मैदान पर कैम्प लगाकर लोगों को सार्वजनिक रूप से जानकारी दी। इस दौरान उन्होंने जहां एक ओर लोगों से सोशल मीडिया के प्रयोग में सावधानी बरतने का आह्वान किया तो वहीं आपत्तिजनक पोस्टों से बचने के भी टिप्स दिये।
            घण्टाघर मैदान पर लगाये गये जागरूकता शिविर में पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चैधरी ने कहा कि वर्तमान परिवेश में सोशल मीडिया से लैस मोबाइल फोन बाजार में उपलब्ध हैं। जिनमें इण्टरनेट सेवा लेने के बाद कोई भी व्यक्ति सोशल मीडिया से जुड़ सकता है। कहा कि सोशल मीडिया से जुडऩे का उद्देश्य काम आने वाली जानकारियों को ग्रहण करने व दूसरों को भेजने तक ही सीमित रखा जाना चाहिए। इसके अलावा किसी भी प्रकार की आपत्तिजनक टिप्पणीइमेज या संदेश पोस्ट न करेंयदि किसी व्यक्ति को कोई आपत्तिजनक पोस्ट लगातार पोस्ट करता है तो उसकी जानकारी तत्काल पुलिस को दें। कहा कि सोशल मीडिया के व्हाट्स ऐप पर बनाये जाने वाले ग्रुप में इस प्रकार की गतिविधियों पर प्रभावी तरीके से निगरानी के लिए सोशल मीडिया सेल का गठन किया गया है। जिसके प्रभारी सीओ सिटी ओमकार सिंह को नियुक्त किया गया है। यदि किसी भी सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी या पोस्ट किया जाता है तो सम्बन्धित व्यक्ति के साथ-साथ ग्रुप एडमिन पर भी इनफॉर्मेशन टेक्नौलॉजी एक्ट की सुसंगत धाराओं के तहत मामला दर्ज कर कड़ी कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। सोशल मीडिया के तहत लोगों को विधि जानकारियां देकर साइबर क्राइम से बचने की नसीहत दी गयी। इस अवसर पर नगर पालिका परिषद अध्यक्ष सुभाष जायसवालपार्षद अनुराग जैन शैलूनामित पार्षद गिरधारी यादवव्यापार मण्डल अध्यक्ष प्रदीप त्रिपाठीमहेश श्रीवास्तवगब्बर अहिरवारसीओ सिटी ओमकार सिंहशहर कोतवाल मंगला प्रसाद तिवारीपीआरओ विजय सिंह समेत अनेकों लोग मौजूद रहे।
श्रीकृष्ण का जीवन संपूर्ण मानवता के लिए मिशाल: चित्ररेखा
ललितपुर। प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय वरदानी भवन के तत्वाधान में जन्माष्टमी पर्व बड़े ही उल्लास के साथ मनाया गया। योगेश्वर श्रीकृष्ण के जीवन चरित्रों पर प्रकाश डालते हुये बड़ी दीदी ने बी.के. चित्ररेखा ने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण का पूरा जीवन संपूर्ण मानवता के लिए मिशाल है। उन्होंने हर कार्य को कलात्मक रूप दिया है। परमात्मा शिव की याद में रहकर कर्म करने से हर कर्म श्रेष्ठ बनता है। कर्म से कुशलता आती है और उसका उदाहरण श्रीकृष्ण का जीवन है। तभी तो उन्हें सौलह कला संपन्न, सर्वगुण सम्पन्न, संपूर्ण निर्विकारी, मार्यादा पुरुषोत्तम, अहिंसा परमो धर्म बन गये। श्रीकृष्ण की तरह ही अपना जीवन संपन्न संपूर्ण और श्रेष्ठ बनाने की शिक्षा ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय में प्रतिदिन दी जाती है। निकट भविष्य में होने वाले महाविनाश के बाद शीघ्र ही श्रीकृष्ण का आगमन इस भारत भूमि पर होने वाला है और यह धरा फिर से स्वर्ग बनने वाली है। बड़ी दीदी ने लोगों से ब्रह्माकुमारी विश्वविद्यालय में आकर शिक्षा प्राप्त कर अपने जीवन को महान बनाने का आह्वान किया।

शतरंज में खिलाडिय़ों ने दौड़ाये दिमागी घोड़े
कटरा बाजार समिति के तत्वाधान में हुई प्रतियोगिता
ललितपुर। जिला स्तरीय शतरंज टूर्नामेंट का शुभारंभ मुख्य अतिथि नगर पालिका अध्यक्ष सुभाष जायसवाल ने विधिवत फीता काटकर किया। प्रतियोगिता में विशिष्ट अतिथि के रूप में पूर्व सपा जिलाध्यक्ष कैलाश यादव, प्रेस क्लब अध्यक्ष राजीव बबेले सप्पू, व्यापार मण्डल नगराध्यक्ष नरेन्द्र कड़ंकी मौजूद रहे।
            मुख्य अतिथि सुभाष जायसवाल ने कहा कि शतरंज एक ऐसा खेल है, जिसमें दिमाग सदैव आगे की सोचता है। इससे दिमाग विकसित होता है। उन्होंने अविभावकों से हमेशा बच्चों को शतरंज खेल के प्रति प्रेरित करने का आह्वान किया। पूर्व सपा जिलाध्यक्ष कैलाश यादव ने कहा कि शतरंज जैसी शह और मात अब राजनीति में भी होने लगी है, जो अच्छा नहीं है। शतरंज दिमाग को विकसित करने में उपयोगी साबित हुआ है। प्रेस क्लब अध्यक्ष राजीव बबेले सप्पू ने कहा कि शतरंज दिमाग के साथ-साथ मनुष्य की सोचने की शक्ति को भी बल प्रदान करता है। शतरंज का खेल आज राष्ट्रीय स्तर पर भी खेला जाता है, जिसमें विश्व चैम्पियन भी भारत देश का ही है। व्यापार मण्डल नगराध्यक्ष नरेन्द्र कड़ंकी ने कहा कि शतरंज का खेल राजा-महाराजाओं के जमाने से चलता आ रहा है। इससे बेहतरीन खेल और कोई नहीं है। इसे समय निकालकर अवश्य खेलना चाहिए। बाहर से पधारे अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी निखिल जैन व नेशनल चैम्पियन वसीम दोनों खिलाडिय़ों ने शतरंज में चाल व मोहरे चलकर खिलाडिय़ों का प्रोत्साहन करते हुये मनोबल बढ़ाया। शतरंज प्रतियोगिता की अध्यक्षता सराफा व्यापार अध्यक्ष मज्जू सोनी ने की। इस अवसर पर संतू मोदी, हारून खान, अरविंद चैरसिया, विजय पहलवान, नरेन्द्र जैन छोटे पहलवान, नत्थू मंसूरी, नरेन्द्र जैन चूना, वीरू पटवा, पप्पू पटवा, कमल पटवा, वरूण जैन, रमाकान्त तिवारी, अजय जैन अज्जू, अरविंद लखेरा, अफजुल रहमान, विद्याकान्त मालवीय, महेश देवलिया, राजू सोनी, सोनू पटवा, महेन्द्र यादव, संजू श्रोती आदि मौजूद रहे। प्रतियोगिता का संचालन रामगोपाल नामदेव व आभार मज्जू सोनी व विजय पहलवान ने संयुक्त रूप से जताया।



समय के पहले पूर्ण कर ली जायें सभी व्यवस्थायें: एडीएम
जलबिहार को लेकर सुम्मेरा तालाब का एडीएम ने किया औचक निरीक्षण
ललितपुर। जल बिहार पर्व के मद्देनजर सुम्मेरा तालाब पर आगामी 24 सितम्बर को होने वाले आयोजन को शान्ति व शुचितापूर्ण तरीके से संपन्न कराने के उद्देश्य से जिला प्रशासन व नगर पालिका काफी गंभीर नजर आ रहा है। बीते रोज नपाध्यक्ष सुभाष जायसवाल ने र्स व्यवस्था का जायजा लिया था। रविवार को अपर जिलाधिकारी एम.के.त्रिवेदी ने सुम्मेरा तालाब पहुंच कर समय के पहले सफाई कार्य पूर्ण कराने के निर्देश अधिकारियों को दिये।
            गौरतलब है कि प्रत्येक वर्ष जल बिहार का पर्व ललितपुर जनपद में बड़े ही धूमधाम व अगाद्ध श्रृद्धा के साथ मनाया जाता है। इस पर्व पर सभी देवालयों से विमानों में श्रीजी को विराजमान कर सुम्मेरा तालाब पर बिहार कराने के लिए लाया जाता है। तालाब के पानी में भगवान को बिहार कराया जाता है, तदोपरांत कतारबद्ध तरीके से लोगों के दर्शनार्थ विमानों को रखा जाता है। इस महत्वपूर्ण पर्व को शांति व सौहार्दपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के लिए अपर जिलाधिकारी एम.के.त्रिवेदी ने सुम्मेरा तालाब का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान पाया कि बारिश कम होने के कारण जल स्तर काफी नीचे हो गया है। इस कारण तालाब में खरपतवार भी उग आये हैं। अपर जिलाधिकारी ने नगर पालिका के अधिकारियों को तालाब की भली भांति साफ-सफाई कराने के निर्देश दिये। साथ ही सुम्मेरा तालाब के घाटों की मरम्मत व पुताई के लिए भी ईओ नगर पालिका को निर्देशित किया। एडीएम ने बताया कि जल बिहार मेला समिति की बैठक शीघ्र ही बुलायी जायेगी। बैठक में पूर्ण कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया जायेगा। निरीक्षण के दौरान उप जिलाधिकारी सदर रमेशचंद्र तिवारी, ईओ के.एन.शर्मा, जेई विपिन कुमार, स्वास्थ्य नायक सहित अन्य कर्मचारी मौजूद रहे।

करूणा इंटरनेशनल चैन्नई ने माँगे आवेदन
राष्ट्रीय अधिवेशन में होंगे पुरुस्कृत
ललितपुर। अहिंसा, करूणा, पशु कल्याण, इकोलाजी, पर्यावरण संरक्षण, पशु क्रूरता निवारण एवं शाकाहार जैसे विशेष कार्यों को करने वाले व्यक्तियों या संस्थान इन पुरुस्कार को प्राप्त कर सकता है। आचार्य हस्ती करूणा रत्न अवार्ड (एक लाख रुपये) जिस व्यक्ति ने विश्व के समस्त प्राणियों की भावनाओं का सम्मान करते हुये, करूणा भाव के प्रचार-प्रसार के लिए अपनी समर्पित सेवायें देकर विशेष कार्य किया हो। आचार्य हस्ती करूणा इंस्टीट्यूट अवार्ड (पचार हजार रुपये), उस संस्थान को प्रदान किया जायेगा, जिसने जीव जन्तुओं के संरक्षण में सेवायें प्रदान की हों। आचार्य करूणा सेवा अवार्ड (पच्चीस हजार रुपये) उस व्यक्ति विशेष को प्रदान किया जायेगा, जिसने करूणा अन्तर्राष्ट्रीय संस्थान के साथ जुड़कर करूणा के क्षेत्र में सेवायें प्रदान की हों। आचार्य हस्ती करूणा विद्यालय अवार्ड (पच्चीस हजार रुपये) यह पुरुस्कार ऐसे विद्यालय को प्रदान किया जायेगा, जिसने करूणा क्लब के माध्यम से विद्यार्थियों में प्राणी मात्र के प्रति प्रेम, अहिंसा, दया, पशु कल्याण, पर्यावरण चेतना, नैतिकता आदि मानवीय मूल्यों की स्थापना करने में अहम भूमिका प्रदान की हो। आचार्य हस्ती करूणा शिक्षक अवार्ड (पच्चीस हजार रुपये) किसी शिक्षक द्वारा करूणा क्लब गठित कर विद्यालय में अपने शिक्षण कार्य के साथ-साथ करूणा क्लब के माध्यम से अहिंसा एवं करूणा के क्षेत्र में विशिष्ट सेवायें प्रदान की हों। आचार्य हस्ती करूणा युवा अवार्ड, ऐसे युवा जो 21 से 40 वर्ष की आयु के हों, जिसने करूणा के क्षेत्र में कार्य किया हो, आचार्य करूणा लेखक अवार्ड जिस व्यक्ति ने अपनी सशक्त लेखनी से करूणा के क्षेत्र में विशिष्ट कार्य किया हो, आचार्य हस्ती करूणा वक्ता अवार्ड जिस व्यक्ति ने अपनी वाक पटुता से समाज व बच्चों में करूणा भाव प्रसारित करने में अभूतपूर्व सहयोग किया हो। आचार्य हस्ती नियोजक अवार्ड उस व्यक्ति को प्रदान किया जायेगा, जो अपने संस्थान की सफलता के साथ करूणा विषयक गतिविधियों में विश्वास रखता हो, आचार्य हस्ती करूणा कर्मचारी अवार्ड यह पुरुस्कार उस व्यक्ति को प्रदान किया जायेगा, जो अपने मालिक व साथियों के बीच में सामांजस्य रखता हो एवं करूणा विषयक गतिविधियों से जुड़ा हुआ हो। जानकारी देते हुये करूणा इंटरनेशनल मड़ावरा केन्द्र अध्यक्ष पुष्पेन्द्र जैन ने बताया कि यह पुरुस्कार चैन्नई में आयोजित 18 वें राष्ट्रीय अधिवेशन में प्रदान किये जायेंगे। ललितपुर केन्द्र अध्यक्ष सुधाकर तिवारी व मड़ावरा अध्यक्ष पुष्पेन्द्र जैन से इस पुरुस्कार के लिए आवेदन पत्र प्राप्त किये जा सकते हैं।

No comments:

Post a Comment