सरोकार की मीडिया

test scroller


Click here for Myspace Layouts

Friday, September 4, 2015

दैनिक सरोकार की मीडिया 05 सितंबर, 2015

दैनिक सरोकार की मीडिया 05 सितंबर, 2015


मुआवजा को लेकर किसानों ने किया जंगी प्रदर्शन
जिलाधिकारी का किसानों के प्रति रवैया अपमानजनक
एसडीएम महरौनी की गाड़ी पर फेंकी फसल
प्रशासन से नाराज किसान के ब्लेड से अपना हाथ काटा

ललितपुर। जनपद में विगत वर्ष हुई ओलावृष्टि व अतिवृष्टि के कारण फसल नष्ट हो गई थी जिसके तौर पर जनपद के सभी किसानों को अभी तक मुआवजा राशि का भुगतान नहीं किया गया है। जिससे किसानों की आर्थिक स्थिति काफी खराब एवं दयनीय हो गई है तथा कुछ छोटे किसानों की आर्थिक स्थिति तो ऐसी हो गई कि परिवार को दो वक्त का खाना खिलाना मुश्किल हो गया है। वहीं जनपद में बरसात न होने के कारण उर्द व मुंग की फसलों में पीला रोग लग कर नष्ट हो गई है। जिस बावत् किसानों ने प्रशासन से मुआवजा राशि दिए जाने की मांग की थी। परंतु प्रशासन द्वारा किसानों को मुआवजा राशि का भुगतान न होने के चलते जनपद के सभी किसानों में रोश व्याप्त हो गया और वह भारी संख्या में एकत्रित होकर जिलाधिकारी महोदय को इस संदर्भ में ज्ञापन सौंपने जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे, परंतु जिलाधिकारी प्रशासनिक कार्रवाही में व्यस्त होने के कारण किसानों से मिलने से मना कर दिया। जिससे किसानों ने कचहरी चैराहे पर नारेबाजी करके प्रदर्शन किया। जब जिलाधिकारी दोपहर के भोजन अवकाश पर घर के लिए निकले तो कचहरी चैराहे पर बैठे किसानों ने उनका घेराव किया। और जिलाधिकारी से जल्द ही मुआवजा दिलाए जाने की आवाज बुलंद की। परंतु जिलाधिकारी अपने वाहन से नहीं उतरे। जब किसानों ने उनके वाहन को जाने नहीं दिया तब उनको अपने वाहन से मजबूरन उतरना पड़ा। जैसे ही वह अपने वाहन से उतरे तो उनका रवैया भी किसानों के प्रति अपमानजनकपूर्वक रहा। उन्होंने किसानों द्वारा लाए गए लाउडस्पीकर को छीन का जमीन पर फेंक दिया और किसानों से कहा कि क्या मचा रखा है। तब किसानों को नेतृत्व कर रहे गजेन्द्र सिंह व साथियों ने मामले से अवगत कराया तो वह ज्ञापन की प्रति लेकर बिना किसी आश्वासन के वहां से चले गए। जिलाधिकारी के इस रवैया से किसानों ने जिलाधिकारी मुर्दाबाद के नारे लगाए व एक किसान ने ब्लेड से अपना हाथ भी काट लिया। और वहीं पर बैठकर नारेबाजी करते रहे। जब कुछ समय बाद उपजिलाधिकारी महरौनी भी अपने वाहन में सवार होकर जा रहे थे तो किसानों ने उनके वाहन को रोककर खराब हुई उर्द व मुंग की फसल वाहन पर फैंकने लगे, जिससे उपजिलाधिकारी महरौनी का वाहन खराब हुई फसलों से भर गया। इसके उपरांत अपर जिलाधिकारी ने उक्त किसानों को आश्वासन दिया है कि उत्तर पद्रेश सरकार से कुछ धनराशि आ चुकी है और कुछ धनराशि आना बाकि है। जैसे ही प्रशासन की ओर से धनराशि आ जाएगी वैसे ही सभी किसानों को मुआवजा राशि का भुगतान कर दिया जाएगा।
जिलाधिकारी के रवैए व अपर जिलाधिकारी के आवश्वासन पर किसानों ने कहा कि यदि प्रशासन किसानों को एक सप्ताह के भीतर मुआवजा की राशि का भुगतान नहीं करती है तो किसान सत्याग्रह करेंगे। जिसकी सारी जिम्मेवारी जिला प्रशासन की होगी।

मतदाताओं को लुभाने वालों को चिह्नित करें: एसपी
चुनाव के दौरान कड़ी सुरक्षा में रहेगा जिला
ललितपुर। वर्तमान में पंचायत चुनाव की सरगर्मियां तेज हो चली हैं। चुनाव के पूर्व अपने-अपने गांव के मतदाताओं को लुभाने के लिए गांव के मुखिया-माते द्वारा प्रलोभन देने का भी प्रयास किया जाने लगा है। इतना ही नहीं संभावित प्रत्याशी व उनके समर्थक मतदाताओं को रिझाने के लिए खास दावत का इन्तजाम भी जोरों से कर रहे हैं। ऐसे में सुरक्षा व्यवस्था काफी महत्वपूर्ण हो जाती है।
            इन सभी बिन्दुओं पर विशेष निगाह बनाते हुये पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चैधरी ने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के मद्देनजर गांव, मोहल्ला, शहर व होटलों पर इस प्रकार की घटनाओं को रोकने के लिए विशेष निर्देश जारी किये हैं। एसपी ने गांव क्षेत्र में रहने वाले मतदाताओं से निडर होकर मतदान करने की अपील करते हुये प्रलोभन देने वाले लोगों को चिह्नित करने के लिए क्यूआरटी टीम का गठन किया गया है। जिसमें समस्त थाना, चैकी व हल्का प्रभारी समेत वीट कांस्टेबिल को एसपी ने निर्देशित किया है कि ऐसी दावत स्थलों को चिह्नित कर संज्ञान में लायें, जहां से एक क्यूआरटी भेजकर ऐसे स्थलों का निरीक्षण करें एवं मतदाताओं को लुभाने में जुटे व्यक्तियों के खिलाफ सम्बन्धित थाने में आपराधिक मुकद्दमा दर्ज करायें। साथ ही उन्हें सम्बन्धित परगना मजिस्ट्रेट से 1-1 लाख धनराशि व जमानत से पाबंद कराया जायेगा। यह भी कहा कि जिन क्षेत्रों में इस प्रकार की दावतों का दौर लगातार जारी होगा सम्बन्धितों के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी।

बलवा ड्रिल: एसपी ने दंगाईयों पर फेंके आँसू गैस के गोले
पुलिस लाइन में कराया गया दंगा नियंत्रण अभ्यास
ललितपुर। शुक्रवार को सुबह पुलिस लाइन के परेड ग्राउण्ड में उस समय अफरा-तफरी मच गयी, जब अपनी मांगों को मनवाने के लिए कुछ लोग उपद्रव करने लगे। उपद्रव कर रहे दंगाईयों को पहले तो समझाया गया, लेकिन न मानने पर बल प्रयोग करते हुये लाठी चार्ज किया गया। बलवा को बढ़ता देख पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चैधरी ने दंगाईयों पर आँसू गैस के गोले फेंके। यह नजारा था परेड ग्राउण्ड में बलवा ड्रिल के दौरान होने वाली गतिविधियों का। जिन्हें देखकर वहां से गुजर रहे लोग भी दंग रह गये। पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चैधरी के कुशल नेतृत्व में किये गये दंगा नियंत्रण अभ्यास में पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों को हथियारों को खोलना-बाँधने के साथ विषम परिस्थितियों को कैसे काबू किया जाये, इसके बारे में विस्तार से जानकारी दी गयी।
            ड्रिल के दौरान सर्वप्रथम बलवा करने आये लोगों को पुलिस ने समझाया। बावजूद इसके न मानने पर लाठी-चार्ज व पानी की बौछार करने पर भी बलवा करने वाले नहीं माने और नारेबाजी जारी रही। पुलिस पार्टी की ओर बढ़े बलवाईयों पर बल प्रयोग किया गया। आपराधिक गतिविधियों पर प्रभावी तरीके से नियंत्रण के लिए पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चैधरी के नेतृत्व में शुक्रवार को पुलिस लाइन प्रांगण में दंगा नियंत्रण अभ्यास कराया गया। मौके पर दंगा नियंत्रण उपकरणों के साथ शस्त्रों को खोलने व बाँधने की जानकारी भी दी गयी। इस दौरान राइफल, स्टाइन गन, अश्रु गैस आदि दंगा नियंत्रण के उपकरणों का परीक्षण भी किया गया। अभ्यास के दौरान पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चैधरी ने आसन्न त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन के मद्देनजर एक-एक क्यूआरटी, थाना सर्किल व आफिस स्तर में गठित की है। एसपी ने कहा कि स्थानीय स्तर के कांस्टेबिल, हेड कांस्टेबिल व एसआई अपने दंगा नियंत्रण उपकरणों से लैस होकर सुबह 8 से रात्रि 8 बजे तक तैयारी की स्थिति में रहेंगे। थाने की क्यूआरटी थानाध्यक्ष व सर्किल की क्यूआरटी सीओ के नेतृत्व में व आवश्यकता के अनुरूप तत्काल पहुंच कर अराजक तत्वों पर कार्यवाही करेगी। पुलिस कार्यालय में भी क्यूआरटी टीम का गठन किया गया। जो कि पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में कार्यरत होगी। गठित क्यूआरटी टीम प्रभारी आंतरिक जांच प्रकोष्ठ प्रभारी इंस्पेक्टर बच्चूलाल चैधरी को बनाया गया है। यह टीम दंगा नियंत्रण उपकरणों के साथ कार्यवाही के लिए तत्पर रहेगी। साथ ही थाना व सर्किल में दंगा नियंत्रण के सभी उपकरण के उचित रख-रखाव के निर्देश दिये। दंगा नियंत्रण अभ्यास के दौरान पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चैधरी, सीओ लाइन हरीकान्त द्विवेदी, सीओ सदर ओमकार सिंह, सीओ वंशराज यादव, आरआई लाइन शिवराम सिंह, शहर कोतवाल मंगला प्रसाद तिवारी, महिला थाना प्रभारी रचना राजपूत, टीएसआई नीरज कुमार दीक्षित के अलावा सभी थानाध्यक्ष व चैकी प्रभारी मौजूद रहे।


लक्ष्य के सापेक्ष कम राजस्व वसूली पर डीएम ने जतायी नाराजगी
अधिकारियों को सख्त लहजे में डीएम ने दी चेतावनी
बैठक से अनुपस्थित रहे मण्डी सचिव ललितपुर व महरौनी का वेतन रोका
ललितपुर। जिलाधिकारी जुहेर बिन सगीर की अध्यक्षता में शुक्रवार को माह अगस्त में कर-करेत्तर राजस्व वसूली की समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया। बैठक जिलाधिकारी द्वारा सम्बन्धित विभागों की राजस्व वसूली के सम्बन्ध में जानकारी ली। डीएम ने व्यापार कर, मनोरंजन कर, विद्युत कर एवं स्टाम्प के निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष कम राजस्व वसूली किये जाने पर कड़ी नाराजगी जाहिर की। उन्होंने निर्देशित करते हुये कहा कि जनपद में राजस्व वसूली की अधिक संभावनायें होते हुये भी विभागीय अधिकारी द्वारा शिथिलता बरतने के कारण राजस्व वसूली नहीं हो पा रही है। आबकारी विभाग में लक्ष्य के सापेक्ष वसूली पर डीएम ने कहा कि इसका एक यह भी कारण है कि अवैध शराब की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया जाये। परिवहन विभाग द्वारा लक्ष्य के सापेक्ष कम वसूली पर सम्बन्धित अधिकारी द्वारा बताया गया कि रजिस्ट्रेशन एवं ऑनलाइन न होने के कारण कम राजस्व की वसूली हुई। डीएम ने नगर पालिका को राजस्व वसूली के सम्बन्ध में कहा कि जिन अधिकारियों व कर्मचारियों को राजस्व वसूली के सम्बन्ध में निर्धारित किया गया है, उस अनुपात में वसूली नहीं करते हैं। ऐसे अधिकारियों व कर्मचारियों के वेतन रोकने के निर्देश डीएम ने दिये। डीएम ने मण्डी सचिव ललितपुर व महरौनी के बैठक में अनुपस्थित रहने पर उनका वेतन रोकने के निर्देश दिये। उन्होंने सभी सम्बन्धित अधिकारियों को समस्त देय की वसूली अगले माह तक शत-प्रतिशत करने के कड़े निर्देश जारी किये। बैठक में डीएम जुहेर बिन सगीर, एडीएम एम.के.त्रिवेदी, सभी एसडीएम व विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

सुख की तमन्ना में श्रावक दुख को झलते: आर्यिका पूर्णमति
ललितपुर। क्षेत्रपाल मंदिर में धर्मसभा को संबोधित कर आर्यिकाश्री पूर्णमति ने कहा कि श्रावक की इच्छाए अनंत हैं वह सुख की तमन्ना में दुख को झेलता है। अपने आप में रहने में ही कल्याण है व्यक्ति अपने उपयोग से बाहर जव निकलता है तो दुख का अपार भण्डार रहता है इसके चलते तनाव एकत्रित होता है जो दुख है।
            कहा कि अज्ञानी संसार अपने आप में रहता है जवकि ज्ञानी संसार में नहीं रहता। जीवन सुख आया है तो उसी प्रकार जाएगा जिसप्रकार क्ष्ण पक्ष के बाद शुक्लपक्ष आता है।जाएगा ज्ञान ही श्रेष्ठ है जिसकी वदौलत व्यक्ति वाहरी वस्तु को जानने की कोशिश करता है लेकिन निज स्वरूप को भूल जाता है। उन्होने कहा कि ज्ञान के वगैर जीवन अधूरा है जीवन जीना भी एक कला है। जियो तो ऐसा जिओ कि परिणामों में संक्लेश न हो। इस मौके पर सुन्दरलाल अनौरा, महेन्द्र सिंघई, पार्षद पंकज जैन, नीलेश जैन नीलू, संकल्प जैन, सीमा जैन, दीपक जैन, नीलम सर्राफ, अमित जैन, डा.अमरचंद जैन ने किया।

समाज कल्याण अधिकारी की शिकायत डीएम से
अभद्रता से क्षुब्ध पार्षद ने डीएम को भेजा शिकायती पत्र
ललितपुर। समाज कल्याण अधिकारी पर अभद्रता करने का आरोप लगाते हुये वार्ड 26 के पार्षद अनुराग जैन शैलू ने एक शिकायती पत्र जिलाधिकारी को भेजते हुये कार्यवाही की मांग की है। पत्र में पार्षद ने डीएम को अवगत कराया कि बीती 2 अगस्त को 4 बजे समाज कल्याण विभाग गया तो वहां पर मौजूद समाज कल्याण अधिकारी वार्ड में रहने वाले वरूण जैन व उनकी पत्नी संगीता जैन पर बुरी तरह चिल्लाते हुये विभाग से निकल जाने की धमकी दे रहीं थीं। इस बात का विरोध करने पर उक्त महिला अधिकारी ने उल्टा पार्षद से अभद्रता करते हुये चिल्लाना शुरू कर दिया। पार्षद ने बताया कि समाजवादी पेंशन की जानकारी लेने के लिए लोग विभाग पहुंच रहे हैं, लेकिन लोगों को समझाने के बजाय कि फार्म विभाग में जमा नहीं हो रहे हैं उल्टा लोगों से अभद्रता की जा रही है। पार्षद ने बताया कि समाज कल्याण अधिकारी ने सपा नगराध्यक्ष का नाम लेते हुये उन्हें भी फोन पर समझाने की बात बतायी। इस घटनाक्रम के दौरान समाज कल्याण विभाग के लिपिक चैहान व नगर पालिका के लिपिक अभिषेक चैबे के साथ लोगों की भीड़ एकत्र हो गयी। पार्षद ने उक्त घटनाक्रम पर खेद व्यक्त करते हुये कहा कि यदि अधिकारी जनता से इस प्रकार का व्यवहार करेगा तो जनता अपनी बात लेकर कहां जायेगी। उन्होंने जिलाधिकारी से समाज कल्याण अधिकारी के खिलाफ कार्यवाही किये जाने की मांग को पुरजोर तरीके से उठाया है।

अधिवक्ताओं ने शांतिपूर्ण किया विरोध प्रदर्शन
ललितपुर। बार कौंसिल ऑफ उत्तर प्रदेश के आह्वान पर प्रदेश में अधिवक्ताओं पर हो रहे हमलों व हत्या के विरोध में जिला कचहरी परिसर में युवा अधिवक्ताओं ने शांतिपूर्ण तरीके से विरोध प्रदर्शन करते हुये प्रदेश सरकार से अधिवक्ताओं की जानमाल व सम्मान की सुरक्षा की मांग उठायी गयी। अन्यथा की स्थिति में युवा अधिवक्ताओं ने उग्र आंदोलन की भी चेतावनी दी। सभा की अध्यक्षता पवन कुमार तिवारी व संचालन विजय कुमार ने किया। सभा में मधुसूदन श्रीवास्तव, वेदप्रकाश राय, त्रिलोकीनाथ कटारे, मनीष श्रीवास्तव, उमेश सोनी, आनंद चतुर्वेदी, मुकेश कुशवाहा, विवेक श्रीवास्तव, आशीष शर्मा, इन्द्रभान सिंह बुन्देला, लखन यादव, अनिल यादव, वसीम राजा, हिमांशु हुण्डैत, प्रमोद श्रीवास्तव, भरत राजपूत, राकेश रजक, सुरेश नायक, जितेंद्र बरया, पुष्पेन्द्र सिंह, धर्मेंद्र राय, दीपक राजपूत, विवेक सक्सेना, संतोष यादव, अजय मिश्रा, रामनरेश दुबे, कुंवरराज राजपूत, प्रदीप पाराशर, रमाकान्त अहिरवार, हरीशंकर नामदेव, रामनरेश सेन, मुकेश साहू, अभिषेक शर्मा, जयपाल सिंह आदि मौजूद रहे।

प्रतियोगिता में शैलेन्द्र का हुआ चयन
ललितपुर। भारत वर्ष में प्रथम बार होने वाले विकलांगों की व्हील चेयर वास्केट बाल प्रतियोगिता के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम जो चेन्नई के जवाहर लाल नेहरू इंडोर स्टैडियम में होने वाला है। यह कार्यक्रम व्हील चेयर बास्केट वाल फेडरेशन ऑफ इण्डिया एवं उनके साथ द इंटरनेशनल कमुटी ऑफ द रेड क्रॉस द्वारा 4 से 13 अगस्त तक कराया जायेगा। इस प्रतियोगिता के लिए ललितपुर के मोहल्ला नेहरू नगर निवासी शैलेन्द्र सिंह राजपूत का चयन किया गया है।

आदिनाथ कॉलेज ऑफ एजुकेशन महर्रा, ललितपुर में सद्भावना से मनाया गया शिक्षक दिवस
छात्र-छात्राओं के की रंगारंग कार्यक्रय की प्रस्तुति
ललितपुर। आदिनाथ कॉलेज ऑफ एजुकेशन, महर्रा में आज शिक्षक के अवसर पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें छात्राओं ने स्वागत गीत व सरस्वती वंदना की प्रस्तुति की। इसके उपरांत प्रशिक्षु सुशील रावत, श्रीकांत शर्मा, व रवीश सोनी ने शिक्षक दिवस के अवसर पर शिक्षक व छात्र-छात्राओं के व्यक्तिगत संबंधों एवं व्यवहारों पर विस्तृत रूप प्रकाश डाला। संस्थान के प्रबंधन प्रदीप जैन द्वारा शिक्षक व छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि भाविष्य में दोनों के संबंधों में मिठास बढ़नी चाहिए और जिस कारण शिक्षक और शिक्षार्थी एक दूसरे को नपसंद करते हैं उसके कारणों को जानकर उस पर विचार करके उसका समाधान करना चाहिए। और प्रशिक्षु अपने जीवन में एक बेहतर शिक्षक बनकर समाज के सामने उभर कर आए। इसी क्रम में प्रवक्ता अशवनी जैन ने शिक्षक बनने से पूर्व सर्व प्रथम अनुशासन को अपने जीवन में उतारे पर जोर दिया। और प्रशिक्षु से कॉलेज परिसर में समय पर व प्रतिदिन आकर शिक्षक कार्य को सुचारू रूप देने को कहा। जिससे उन्हें शिक्षक के गुणों और व्यक्तित्व के बारे में अध्यन कराया जाए। प्रवक्ता रोहित सिघंई व प्रवक्ता निवेदिता श्रीवास्तव ने सभी प्रिशिक्षुओं को शिक्षक दिवस की शुभकामनाएं दी और शिक्षक बनने से पूर्व की शिक्षा की बारीकियों से सभी को अवगत कराया।
प्रिशिक्षु नरेन्द्र ताम्रकार ने प्रभारी प्राचार्य व समस्त प्रवक्ताओं को वीणवादनी मां सरस्वती का चित्र सप्रेम भेंट के रूप में दिया। इस अवसर पर प्रवक्ता रोहित सिघंई, निवेदिता श्रीवास्तव, नितिन सतभैया, बृजमोहन वर्मा, हेमंत कुमार, अजय, लाल मुहम्मद, प्रशिक्षु नरेन्द्र ताम्रकार, सुशील रावत, श्रीकांत शर्मा, पवन कुमार, सौरभ यादव, अंकित जैन, साकेत जैन, प्रियंका श्रीवास, सोनम यादव, ऋतु त्रिपाठी, प्रियंका यादव, रूचि पटेल, मंजुला जैन, मोहनी लता आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन नरेन्द्र ताम्रकार व अभार प्रभारी प्राचार्य द्वारा किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्था प्रबंधक प्रदीप जैन ने की।

कृष्ण जन्माष्टमी व शिक्षक दिवस पर सिद्धि सागर एकेडमी में हुये रंगारंग कार्यक्रम
ललितपुर। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी एवं शिक्षक दिवस के उपलक्ष्य में सिद्धि सागर एकेडमी में एक रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर प्ले सेंटर, नर्सरी व केजी के छात्र-छात्रायें राधा कृष्ण एवं नटखट ग्वाला और गोपियो की वेशभूषा में सुसज्जित होकर आये हुये थे।
            एक ओर राधा के वेष में सभी लड़कियां अपनी ओढनी व माखन की मटकी संभाल रहीं थीं। तो वही दूसरी ओर कृष्ण व उनके सखा बने ग्वाले के वेष में सभी लड़के अपनी बांसुरी बजाते हुऐ घूम रहे थे। स्कूल के प्रांगण में छाई, हरियाली को देखकर लग रहा था कि मानों ब्रज की छटा आज यहीं उतर आई है। चारों ओर एक ही आवाज सुनाई दे रही थी हाथी घोड़ा पालकी, जय कन्हैयालाल की। कक्षा आठ के छात्र-छात्राओं ने ‘‘बेटी पढाओ-भविष्य बनाओ‘‘ नामक लघु नाटिका प्रस्तुत की। इस प्रस्तुति के द्वारा इन बच्चों ने कन्या शिक्षा के महत्व को दर्शाया। इस अवसर पर बच्चों को श्री.ष्ण जन्माष्टमी एवं शिक्षक दिवस की बधाई देते हुये एकेडमी की डायरेक्टर रीता जैन ने कहा कि पर्व हमारी भारतीय संस्.ति का अभिन्न अंग है। हर त्यौहार कोई न कोई संदेश दे जाता है। जन्माष्टमी पर हम लोग भगवान .ष्ण के उपदेशों को स्मरण कर कुछ अच्छे कर्म करने को शिक्षा प्राप्त करते हैं। उन्होंने स्कूल के सभी शिक्षक-शिक्षिकाओं को बधाई देते हुऐ कहा कि आज इस आधुनिक युग में प्राचीन गुरू-शिष्य परंपरा संभव नही रह गई है, लेकिन फिर भी गुरू को अपनी गरिमा बनायें रखनी चाहिए। हम सभी शिक्षकों को अपने विद्यार्थियों में अच्छे संस्कार एवं सही ज्ञान देकर राष्ट्र निर्माता का अपना दायित्व सही अर्थों में पूरा करना चाहिए। उन्होंने छात्र-छात्राओं का आहृवान करते हुये कहा कि यदि वास्तव में ज्ञान प्राप्त करना चाहते हो तो सबसे पहले अपने से बड़ों का आदर करना सीखना होगा। हम आधुनिक तो बनें किन्तु अपने प्राचीन मूल्यों को नष्ट न होने दें, तभी शिक्षक दिवस मनाना सार्थक होगा। अंत में एकेडमी की डायरेक्टर रीता जैन ने सभी शिक्षक शिक्षिकाओं एवं समस्त स्टॉफ  को उपहार देकर सम्मानित किया। आज के सम्पूर्ण कार्यक्रम का सफल संचालन कक्षा आठ की घृति दुबे एवं हिमांशु मालवीय ने किया।

प्राकृतिक संसाधनों से छेड़छाड़ से उत्पन्न होगीं गंभीर बीमारियां: प्रभात दीक्षित
नेमवि में पर्यावरण संगोष्ठी व वृक्षारोपण कार्यक्रम संपन्न
ललितपुर। नेहरू महाविद्यालय में वृक्षारोपण व पर्यावरण संगोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें सर्वप्रथम महाविद्यालय परिसर में नीम, आंवला, पीपल, बट व आम आदि वृक्षों का रोपण किया गया।
            पर्यावरण संगोष्ठी में प्रबंधक प्रदीप चैबे ने कहा कि हमें अपने आसपास के पर्यावरण को सुरक्षित बनाये रखने की आवश्यकता है। महाविद्यालय के समस्त प्राध्यापकों व प्रबंध समिति सदस्यों को एक-एक वृक्ष आवश्यक तौर पर गोद लेने की अपील की। कहा कि समय रहते अगर हम लोग सचेत नहीं हुये तो इसके परिणाम गंभीर होकर हमारे सामने आयेंगे और समस्त मानव जीवन खतरे में पड़ जायेगा। महाविद्यालय प्रबंध समिति अध्यक्ष प्रभात दीक्षित ने कहा कि आज के इस वैज्ञानिक युग में पर्यावरण के प्रति हम सभी लोगों को सचेत रहने की आवश्यकता है। उन्होंने चिन्त व्यक्त करते हुये कहा कि अगर हम इसी तरह से प्रा.तिक संसाधनों का दोहन करते रहे और खेतों में कीटनाशकों का प्रयोग करते रहे तो वह दिन दूर नहीं जब हम सभी किसी न किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित हो जायेंगे। प्राचार्य डा.अवधेश अग्रवाल ने कहा कि पर्यावरण संरक्षण आज इस भौतिकवादी युग में अत्यंत आवश्यक है। जल वायु पृथ्वी पूरी तरह से प्रदूषित हो चुके हैं। उन्होंने पर्यावरण को मानवजाति से जोडऩे की बात कही। संस्कृत विभागाध्यक्ष डा.ओमप्रकाश शास्त्री ने कहा कि प्रतिदिन चलने वाले वाहनों व फैक्ट्रियों से निकलने वाले धुंए से जहां वायु प्रदूषित हो रही है तो वहीं औद्योगिक कचरे व नालियों के गंदे पानी से नदियां भी प्रदूषित हो रहीं हैं। इस दौरान ओ.पी. बिरथरे, भगवत दयाल सिंधी, राघवेन्द्र सिंह, डा.जनक किशोरी शर्मा ने भी संबोधित किया। गोष्ठी में अशोक गोस्वामी, हरीराम निरंजन, अनूप ताम्रकार, गिरीश पाठक, गोविंद व्यास, शरद खैरा, अजय पटैरिया, धर्मेंद्र रावत, रूप नारायण निरंजन, जयशंकर प्रसाद, सजन शर्मा, विमल तिवारी, रघुवीर तिवारी, जददीश तिवारी, ब्रजेश चैबे, राजेन्द्र त्रिपाठी समेत समस्त प्राध्यापक मौजूद रहे।

निधन पर प्रेस क्लब ने जताया शोक
ललितपुर। अमर शहीद पं.गणेश शंकर विद्यार्थी पत्रकार भवन में प्रेस क्लब अध्यक्ष राजीव बबेले सप्पू की अध्यक्षता में प्रेस क्लब के सम्मानित सदस्य अजित जैन भारती के भतीजे स्व.इंजी.राजेश जैन के आकस्मिक निधन पर शोकसभा का आयोजन किया गया। सभा में दिवंगत आत्मा की शांति हेतु दो मिनिट का मौन धारण कर ईश्वर से मंगल कामनायें की गयीं। सभा का संचालन प्रेस क्लब महामंत्री मो.नसीम ने किया। इस दौरान संरक्षक सुरेन्द्र नारायण शर्मा, मंजीत सिंह सलूजा, संतोष शर्मा, कोषाध्यक्ष संदीप शर्मा, विनीत चतुर्वेदी, जसपाल सिंह बंटी, बृजमोहन रिछारिया, रवि चुनगी, ब्रजेश पंथ, कुन्दन पाल, डॉ. गजेन्द्र प्रताप सिंह, नरेन्द ताम्रकार, अमित लखेरा, पंकज कुमार, बाबा कुरैशी, महेश वर्मा, अनूप मोदी, देवेन्द्र पाठक, संजू श्रोती, ब्रजेश सोनी, कृष्णकान्त आदि पत्रकार मौजूद रहे।


अनंतकालीन भक्ताम्मर प्रभावना पूर्वक जारी
ललिततपुर। मुनिपुंगव सुधासागर महाराज के आशीर्वाद से क्षेत्रपाल मंदिर में अनंतकालीन भक्ताम्मर पाठ प्रभावना पूर्वक चल रहा है जिसमें पुण्र्याजक परिवारों के साथ उपस्थित धर्मालुओं द्वारा भगवान की अभिषेक शान्तिधारा सम्पन्न होती है। आर्यिकाश्री पूर्णमति माताजी के विरामान रहने से धर्मालुओं को और अधिक आनंद आ रहा है। सायंकाल संगीमय आरती की छठा देखते ही बनती है।

No comments:

Post a Comment