सरोकार की मीडिया

test scroller


Click here for Myspace Layouts

Tuesday, April 13, 2010

किसी और को दोस्त बनाने की ज़रूरत नही


बातें करके रुला ना दीजिएगा...


यू चुप रहके सज़ा ना दीजिएगा...

ना दे सके ख़ुशी, तो ग़म ही सही...

पर दोस्त बना के यूही भुला ना दीजिएगा...

खुदा ने दोस्त को दोस्त से मिलाया...

दोस्तो के लिए दोस्ती का रिस्ता बनाया...

पर कहते है दोस्ती रहेगी उसकी क़ायम...

जिसने दोस्ती को दिल से निभाया...

अब और मंज़िल पाने की हसरत नही...

किसी की याद मे मर जाने की फ़ितरत नही...

आप जैसे दोस्त जबसे मिले...

किसी और को दोस्त बनाने की ज़रूरत नही
gajendra_125@rediffmail.com

No comments:

Post a Comment